Mera parichay in hindi

अकसर विद्यालय में ” Mera parichay” के ऊपर निबंध पूछे जाते है। जो कक्षा एक से दशवी तक के छात्राओ से पूछे जाते हैं।
दोस्तो क्या आपको पता है निबंध क्या है?- निबंध – किसी भी विषय पर अपने भावों को पूर्ण रूप से क्रमानुसार लिखना ही निबंध कहा जाता है ।

निबंध को लिखने के लिए हमेशा सरल और मधुर शब्दो का प्रयोग करना चाहिए । दोस्तो निबंध लिखने के लिए आपको किसी पुस्तक से रटने या अभ्यास करने की जरूरत नही है। अपने भावनाओ को क्रम में लिखना ही निबंध है।

Mera parichay” निबंध में हमे अपने बारे में किसी को बताना या व्यक्त करना होता है। दोस्तो ” मेरा परिचय ” निबंध को लिखने के लिए आप इसे कुछ भागों में बाट सकते हैं ,जिससे आप निबंध को सरल और क्रमानुसार लिख सकते हैं।

• परिचय
• परिवार
• शिक्षा
• आपकी दिनचर्या
• आपकी रुचि

Mera parichay in hindi (class 1-4)

• मेरा नाम राज बर्मा है।
• मै दस वर्ष का हूं ।
• मै कोलकाता के न्यू टाउन में रहता हूं।
• मेरे पिता का नाम राजेश बर्मा और माता का नाम अनिता बर्मा है।
• मेरे परिवार में छः सदस्य है, दादा , दादी , मम्मी , पापा , मैं ओर मेरी छोटी बहन।
• मै कोलकाता के डीएवी स्कूल में , कक्षा पांचवी मे पढ़ता हूं।
• मै प्रतिदिन सुबह छः बजे उठता हूं।
• मुझे सुबह पढ़ना अच्छा लगता है।
• मै प्रतिदिन योग व्यायाम करता हूं।
• मुझे क्रिकेट खेलना ओर गाने सुनना अच्छा लगता है।

Mera parichay

मेरा परिचय (कक्षा 5-8)

मेरा नाम राज बर्मा है। मैं बारह वर्ष का हूं। मैं कक्षा सातवीं मे पढ़ाई करता हूं। मैं कोलकाता शहर के न्यू टाउन में रहता हूं। मेरे पापा का नाम राजेश बर्मा और मम्मी का नाम अनिता बर्मा है। मेरे घर मे कुल छः सदस्य हैं , मेरे पापा , मम्मी , दादा , दादी मै और मेरी छोटी बहन । मैं कोलकाता के डीएवी पब्लिक स्कूल में पढ़ाई करता हूं। मुझे प्रतीदिन विद्यालय जाना अच्छा लगता है। मेरे कक्षा के सभी शिक्षक और शिक्षका अच्छे है। मुझे गणित पढ़ना अच्छा लगता है।
मैं प्रतीदिन सुबह छः बजे उठता हूं, प्राथमिक क्रियाक्रम के बाद में पढ़ाई करता हूं। मैं प्रतीदिन व्यायाम भी करता हूं। मैं अपना विद्यालय बस से जाता हूं। मेरे विद्यालय में छुट्टी 1 बजे होती है। दोपहर का भोजन ,मैं पूरे परिवार के साथ भोजन करता हूं। भोजन के बाद मै थोड़ी देर टीवी देखता हूं। फिर मै अपना होम वर्क पूरा करता हूं। मेरे घर के पास छोटा सा पार्क है। जहा शाम को मैं अपने दोस्तो के साथ क्रिकेट खेलने जाता हूं। मुझे क्रिकेट खेलना अच्छा लगता है। शाम को 7 बजे मै ट्यूशन पढ़ने जाता हूं।फिर घर मे , मै थोड़ी देर पढ़ाई करता हूं । मुझे सतरंग खेलना अच्छा लगता है, मैं अपने दादाजी के साथ सतरंग खेलता हूं। फिर 9 बजे मैं रात्रि का भोजन करता हूं। फिर मै सोने चला जाता हूं। मुझे गाने सुनना अच्छा लगता है। मैं मनोरंजन के लिए गाने सुनता हूं और कॉमिक बुक पढ़ता हूं।

Mera parichay essay for class (9,10)

मेरा नाम राज बर्मा है। मैं बारह वर्ष का हूं। मैं कक्षा सातवीं मे पढ़ाई करता हूं। मैं कोलकाता शहर के न्यू टाउन में रहता हूं। कोलकाता को महलों का शहर भी कहा जाता है । मेरे पापा का नाम राजेश बर्मा है, जो पंजाब नेशनल बैंक मे प्रबंधक है,और मम्मी का नाम अनिता बर्मा है। मेरे घर मे कुल छः सदस्य हैं , मेरे पापा , मम्मी , दादा , दादी मै और मेरी छोटी बहन । मेरी बहन का नाम नैना है, जो मेरे साथ विद्यालय जाती है। नैना कक्षा चौथी मे पढ़ाई करती है। मैं कोलकाता के डीएवी पब्लिक स्कूल में पढ़ाई करता हूं। हमारे विद्यालय में चित्रकला , नृत्य , खेल , गाने , और योगा भी सिखाया जाता है। मेरे विद्यालय मे क्रिकेट भी सिखाया जाता है। मुझे क्रिकेट खेलना अच्छा लगता है। मैं विद्यालय की ओर से क्रिकेट खेलने जाता हूं। मुझे प्रतीदिन विद्यालय जाना अच्छा लगता है। मेरे कक्षा के सभी शिक्षक और शिक्षका अच्छे है। मुझे गणित पढ़ना अच्छा लगता है। मुझे गणित के शिक्षक अच्छे लगते है। मैं हमेशा अव्वल अंको से पास होता हूं।
मैं प्रतीदिन सुबह छः बजे उठता हूं, प्राथमिक क्रियाक्रम के बाद में पढ़ाई करता हूं। मैं सुबह व्यायाम के लिए नजदीकी पार्क में जाता हूं । मेरी मम्मी मेरे लिए सुबह सुबह नाश्ता तैयार करती है। मैं , मम्मी के हाथो का बना हुआ टिफिन विद्यालय लेकर जाता हूं। मेरे पापा मुझे प्रतीदिन विद्यालय पहुंचाने आते है। मेरे विद्यालय में 1 बजे छुट्टी होती है। मैं विद्यालय से घर बस से जाता हूं। मै हमेशा खाने से पहले अपने हाथों को साबुन से धोता हूं। भोजन के बाद मै थोड़ी देर टीवी देखता हूं। मुझे कार्टून देखना अच्छा लगता है ।फिर मै अपना होम वर्क पूरा करता हूं। मेरे घर के पास छोटा सा पार्क है। जहा शाम को मैं अपने दोस्तो के साथ क्रिकेट खेलने जाता हूं। शाम को 7 बजे मै ट्यूशन पढ़ने जाता हूं।फिर घर मे , मै थोड़ी देर पढ़ाई करता हूं । मुझे सतरंज खेलना अच्छा लगता है, मैं अपने दादाजी के साथ सतरंज खेलता हूं। दादाजी मुझे कहानियां भी सुनते है। फिर 9 बजे मैं रात्रि का भोजन करता हूं। रात्रि का भोजन ,मैं पूरे परिवार के साथ करता हूं। फिर मै सोने चला जाता हूं। प्रति महीने के अंतिम रविवार को हम सब घूमने भी जाते है। मुझे पार्क में बोटिंग करना और झूलआ झूलना अच्छा लगता है। मुझे गाने सुनना अच्छा लगता है। मैं मनोरंजन के लिए गाने सुनता हूं और कॉमिक बुक पढ़ता हूं।

दोस्तो “मेरा परिचय निबंध ” आपको कैसी लगी आप हमे कॉमेंट करके बताएं। और अगर आपका इस लेख से जुड़ी कोई जिज्ञासा है या कोई सुझाव है तो आप हमे कॉमेंट करके जरूर बताएं। धन्यवाद।

मेरा परिचय क्या होता है?

मेरा परिचय का अर्थ होता है अपने बारे में किसी को बताना। इसमें आपको अपने बारे में सामान्य जानकारी देनी होती है।

मेरा परिचय कैसे लिखे?

मेरा परिचय निबंध आप आसानी से लिख सकते हैं इसमें आपको अपने बारे में सामान्य बाते जैसे – अपना नाम , शिक्षा , अपने परिवार , आपकी दिनचर्या और आपकी रुचि के बारे में लिखना होता है।

Leave a Comment